शनिवार, 18 सितंबर 2010

मुन्डी भेजो मुंडी

साभार :-भोजपुरिया सिनेमा से 

  
एक अपहर्ता ने श्रीमति ”क” का अपहरण कर पति श्री ख को उसकी अंगुलि के एक हिस्से के साथ संदेश भेजा-”मैने तुम्हारी बीवी का अपहरण किया है बतौर प्रूफ़ अंगुली भेज रहा हूं बीवी को ज़िन्दा ज़िन्दा चाहते हो तो पचास लाख भेजो ”
पति ने तुरंत उसी पते पे उत्तर भेजा :”इस सबूत से  प्रूफ़ नही होता कि वो मेरी ही पत्नी की अंगुली है कोई बड़ा प्रूफ़ भेजो भाई ..... मुन्डी भेजो मुंडी  ”
_______________________________________________
इस लतीफ़े के साथ आप सबको वीक एण्ड की शुभ कामनाएं

2 टिप्‍पणियां:

  1. श्रीमती 'क' को नही पहचाना शरद भई आपने? अरे वो है न अपने गोस्वामीजी कमल पुरी जी उनकी घरवाली.
    हमारे गोस्वामीजी इतने सीधे नही है,बोले-देखो! मुंडी भेजो तो साथ में जुबान मत भेजना,मुझे मालूम है बंद नही हुई होगी'
    हा हा हा

    उत्तर देंहटाएं

टिप्पणियाँ कीजिए शायद सटीक लिख सकूं