शनिवार, 26 सितंबर 2009

Tribute to Talat Mehmood Sahab

http://www.youtube.com/watch?v=v5J9poFASWA

___________________________________________________________________________________________
और भी मधुर गीत हैं
ये  रात  ये  चांदनी  फिर  कहाँ  ...
 
"यू-ट्यूब से साभार "

1 टिप्पणी:

  1. बहुत बढ़िया लगा! अत्यन्त सुंदर! विजयादशमी की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं

टिप्पणियाँ कीजिए शायद सटीक लिख सकूं