मंगलवार, 4 अगस्त 2009

चर्चा का नया रंग

चर्चा में ब्लागर्स का भाई विवेक ने आज जो स्केच बनायाबेशक उनकी आदमी को बांचने के ज्ञान का बेजोड़ नमूना है। ब्लागर्स के बारे में जिस सधे तरीके से कहा हम तो कायल हो गए । अभी अभी बवाल से हुई चर्चा के मुताबिक विवेक की अंतरजाल पर एक साधा हस्ताक्षर है !
मुझे भी इत्तिफाक है उनसे
ईश्वर से विनम्र याचना है उनकी लेखनी धारदार हो असर दार हो साथ ही उनकी पुरानी प्रेमिकाएं कल रक्षाबंधन के अवसर पर कोई चमकीली वस्तु सहित उन पर आक्रमण न कर पाए .

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ कीजिए शायद सटीक लिख सकूं